गूगल ने छोटे शहरों के स्टार्टअप को मदद देने और उनको आगे बढ़ाने के लिए एक खास कार्यक्रम की शुरुआत की है.

कंपनी ने 'स्टार्टअप स्कूल इंडिया' पहल शुरू करने की घोषणा की है.

गूगल को उम्मीद है कि इस कार्यक्रम से छोटे एवं मझोले शहरों (टियर-2 एवं टियर-3) में सक्रिय 10,000 स्टार्टअप को फायदा मिलेगा.

गूगल ने एक ब्लॉगपोस्ट में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि ‘ऑनलाइन’ नौ सप्ताह तक चलने वाले इस कार्यक्रम में उसके प्रतिनिधि स्टार्टअप कंपनियों के कर्ताधर्ताओं के साथ संवाद करेंगे.

भारत में इस समय करीब 70,000 स्टार्टअप मौजूद हैं और यह दुनिया में स्टार्टअप के लिए तीसरा बड़ा केंद्र है.

खास बात यह है कि स्टार्टअप के मामले में बेंगलुरु, दिल्ली, मुंबई और हैदराबाद जैसे बड़े शहरों के साथ जयपुर, इंदौर, जैसे छोटे शहर भी पीछे नहीं हैं.

महिलाओं के नेतृत्व वाले स्टार्टअप्स को मिलेगा बढ़ावा

Google ने इवेंट के दौरान Artificial intelligence द्वारा संचालित कई परियोजनाओं की घोषणा की, जिनमें स्पीच टेक्नोलॉजी, वॉयस और वीडियो सर्च आदि शामिल हैं।